विलोम शब्द Vilom Shabd or Opposite Words

विलोम शब्द Vilom Shabd or Opposite Words in Hindi Grammar

प्रत्येक शब्द का एक निश्चित अर्थ होता है। उस अर्थ के विपरीत अर्थ देने वाले शब्द को विलोम शब्द कहते है। जैसे-सुख का अर्थ है, जीवन में अनन्त खुशियों का होना और इसके विपरीत अर्थ है. जीवन में खुशियों का न होना यानि दुःख। विलोम शब्द को विपरीतार्थक शब्द भी कहते हैं। विपरीत शब्द अर्थ का ज्ञान होने की वजह से शब्दों को समझना सुलभ हो जाता है तथा वाक्यों में उसका प्रयोग आसान हो जाता है; जैसे-दिन का रात तथा अच्छा का बुरा।

यहाँ विशेष रूप से ध्यान देने की है-शब्द का विलोम उसी व्याकरणिक कोटि का होगा, जिसका वह मूल शब्द है। विलोम संज्ञा, सर्वनाम का विलोम सर्वनाम, विशेषण का विलोम विशेषण, क्रिया का विलोम क्रिया पद और क्रिया विशेषण का क्रिया विशेषण होता है। विलोम शब्दों का निर्माण निम्न प्रकार से होता है-

(क) भिन्न शब्द द्वारा-लाभ-हानि, कटु-मधु, गुरु-लघु, मूक-वाचाल।

(ख) लिंग परिवर्तन द्वारा-राजा-रानी, भाई-बहन, वर-कन्या, माता-पिता, नर-नारी, लड़का-लड़की।

(ग) प्रत्ययवत् प्रयुक्त शब्द-परिवर्तन द्वारा-केन्द्रभिगामी-केंद्रापसारी, गतिवान-गतिहीन।

(घ) नञ् द्वारा-सभ्य-असभ्य, संभव-असंभव, लौकिक-अलौकिक, आदि-अनादि।

(ङ) उपसर्ग परिवर्तन द्वारा-आदान-प्रदान सुलम-दुर्लभ, आयात-निर्यात, संयोग-वियोग।

जिन उपसर्गों से नए शब्द बनते हैं, वे हैं-

  • उपसर्ग जोड़कर- सभ्य-असभ्य, न्याय-अन्याय, लौकिक-अलौकिक, हिंसा-अहिंसा, सामान्य-असामान्य।
  • उपउपसर्ग जोड़कर– यश-अपशय, उत्कर्ष-अपकर्ष, मान-अपमान, कीर्ति-अपकीर्ति।
  • अन् उपसर्ग जोड़कर– अंगीकार-अन गीकार, उत्तरित-अनुत्तरित, अस्तित्व-अनस्तित्व, अभिज्ञ-अनभिज्ञ ।
  • निरनिशु, निष्उपसर्ग जोड़कर-पाप-निष्पाप, सक्रिय-निष्क्रिय, सशुल्क-नि शुल्क, सचेष्ट-निश्चेष्ट, तेज-निस्तेज।
  • विउपसर्ग जोड़कर-सम्मुख-विमुख, राग-विरोग, देश-विदेश, योजन-वियोजन ।
  • प्रतिउपसर्ग से जोड़कर-आगामी-प्रतिगामी, वादी-प्रतिवादी, घात-प्रतिधात, रूप-प्रतिरूप, आगमन-प्रत्यागमन।
  • दुरउपसर्ग जोड़कर-सुयोध-दुर्योध, सुव्यवस्थित-दुर्व्यवस्थित सज्जन-दुर्जन।
  • कुउपसर्ग जोड़कर-सुपात्र-कुपात्र, सुपत्र- कुपुत्र, सुपाच्य-कुपाच्य, सन्मार्ग-कुमार्ग।
शब्दविलोम
(अ, आ)
अबलसबल
अंकुशनिरंकुश
अभयभयभीत
अग्रपश्च
अर्जनविसर्जन
अकालसुकाल
अहनिश
अरिमित्र
अथइति
अधिकन्यून
अपनापराया
अमृतविष
अन्यअनन्य
अपारपरिमित
अज्ञविज्ञ
अंतआदि
अंतर्द्वन्द्वबहिर्द्वन्द
अवलम्यनिरालम्य
अवयवनिरवयव
अबेरसबेर
अग्रजअनुज
अगैतीपिछैती
असीमसीमित
अगलापिछला
अस्तउदय
अस्तिनास्ति
अधमश्रेष्ठ
अवनति

 

उन्नति

 

अदेहसदेह
अदोषसदोष
अनाथसनाथ
अनुरक्तिविरक्ति
अल्पज्ञबहुग
अगलापिछला
अनुलोमप्रतिलोम
अर्थअनर्थ
अतुकान्ततुकान्त
अधुनातनपुरातन
अर्पितगृहीत
अपेक्षाउपेक्षा
अंगीकारअस्वीकार
अतिवृष्टिअनावृष्टि
अर्थीप्रत्यर्थी
अर्वाचीनप्राचीन
अल्पअति
अनुकूलप्रतिकूल
अभीकभी
अडिगडावाँडोल
अवनिअम्बर –
अवकाशव्यस्तता
अभिमाननिराभिमान
अत्रतत्र
अनुरागविराग
अधीनस्वाधीन
अपव्ययमितव्यय
अगरमगर
अस्थिमाँस
अगजग
अगमगम्य
अनिवार्यवैकल्पिक
अतीतवर्तमान
असारसंसार
असलीनकली
अबोधसुबोध
अचेतसचेत
अँधेराउजाला
अनुभवीनौसिखिया
अच्छाबुरा
अंधकारप्रकाश
अकामसुकाम
अमरमर्त्य
अग्निजल
अरुचिसुरुचि
अनेकताएकता
अमीरगरीब
अनित्यनित्य
अतलवितल
अधिकारीअनाधिकारी
अश्रुहास
अपमानसम्मान
अनैक्यऐक्य
अमावस्यापूर्णिमा
अनाहूतआहूत
अत्यधिकअत्यल्प
अधिकतमन्यूनतम
अनुग्रहविग्रह
अहिंसाहिंसा
अक्रूरक्रूर
आशानिराशा
आजकल
आत्मापरमात्मा
आगपानी
आतुरअनातुर
आचारदुराचार/अनाचार
आज्ञाप्रार्थना/अवज्ञा
आकारनिराकार
आकर्षणविकर्षण
आवश्यकअनावश्यक
आस्थाअनास्था
आस्तिकनास्तिक
आच्छादितअनाच्छादित
आधारनिराधार
आविर्भूततिरोभूत
आयव्यय
आग्रहीदुराग्रही
आयातनिर्यात
आदानप्रदान
आलोकअंधकार
आजादगुलाम
आरम्भअन्त
आहारनिराहार
आगामीविगत
आविर्भावतिरोभाव
आक्रमणप्रतिरक्षण
आरोहीअवरोही
आत्मीयअनात्मीय
आश्रितअनाश्रित
आगतअनागत
आध्यात्मिकभौतिक
आर्द्रशुष्क
आश्चर्यअनाश्चर्य
आवृतअनावृत
आदिष्टनिषिद्ध
आभ्यन्तरबाह्य
आजादीगुलामी
आर्यअनार्य
आडम्बरसादगी
आमन्त्रितअनामन्त्रित
आहूतअनाहूत
आलसीकर्मठ
आराध्यदुराध्य
आनन्दमयविषादपूर्ण
आकीर्णविकीर्ण
आधापूरा
आसक्तिविरक्ति
आधारनिराधार
आरोहणअवरोहण
आशावादीनिराशावाची
आशीषअभिशाप
आगमनप्रस्थान
आसक्तअनासक्त
आहतअनाहत
आरूढ़

आघात

अनाघात

अनारूढ़

                      (इ,ई)
इहलोकपरलोक
इष्टअनिष्ट
इच्छाअनिच्छा
इज्जतबेइज्जत
इधरउधर
इकट्ठाअलग
इसकाउसका
इतिअथ
ईश्वरअनीश्वर
ईषत्अलम
ईशअनीश
ईदमुहर्रम
ईमानदारबेईमान
ईहाअनीहा
ईप्सितअनीप्सित
                      (उ,ऊ)
उग्रशान्त/सौम्य
उतारचढ़ाव
उत्कृष्टनिकृष्ट
उत्तीर्णअनुत्तीर्ण
उदयअस्त
उपकारअपकार
उपयोगीअनुपयोगी
उऋणऋणी
उष्णशीत
उपमेयअनुपमेय/अनुपम
उदासप्रसन्न
उल्लेखअनुल्लेख
उदात्तअनुदात्त
उधारनकद
उन्नतिअवनति
उद्घाटनसमापन
उत्तरायणदक्षिणायन
उत्थानपतन
उदयाचलअस्ताचल
उन्मुखविमुख
उपस्थितअनुपस्थित
उचितअनुचित
उपायनिरुपाय
उत्कर्षअपकर्ष
उपयुक्तअनुपयुक्त
उपसर्गप्रत्यय
ऊर्ध्वअधो
ऊँचनीच
ऊर्ध्वगामीअधोगामी
ऊधमविनय
                       (ऋ)
ऋणधन
ऋतअनृत
ऋजुवक्र
                      (ए,ऐ)
एकाग्रचंचल
एड़ीचोटी
एकताअनेकता
एकअनेक
एकलबहुल/समूह
एकत्रविकीर्ण
एकार्थअनेकार्थ
एकांगीअनेकांगी
एकेश्वरवादबहुदेववाद
एकाधिकारसर्वाधिकार
एक्यअनैक्य
एक पक्षीयबहुपक्षीय
एकाग्रचित्तअन्यमनस्क
ऐतिहासिकअनैतिहासिक
ऐच्छिकअनैच्छिक
ऐश्वर्यअनैश्वर्य
                     (ओ, औ)
ओजस्वीनिस्तेज
ओछाउदार
औषधिअनौषधि
औरतमर्द
औचित्यअनौचित्य
औपन्यासिकअनौपन्यासिक
औपचारिकअनौपचारिक
औदार्यअनौदार्य
औरसदत्तक
                       (क)
कुव्यवस्थासुव्यवस्था
कापुरुषपुरुषार्थी
कलंकित/कलंकनिष्कलंक
कलुषनिष्कलुष
कुख्यातविख्यात
कीर्तिअपकीति
कदाचारसदाचार
कटुमधुर
कृपणउदार/दानी
कर्कशसुशील
कसूरवारबेकसूर
कमीबाहुल्य
कुलीनअकुलीन
काट्यअकाट्य
कड़ामुलायम
कपटनिष्कपट
कलयुगसतयुग
कपूतसपूत
कृतज्ञकृतघ्न
कोमलकठोर
क्रयविक्रय
कर्मण्यअकर्मण्य
कर्षणविकर्षण
कुलदीपकुलांगर
कृष्णश्वेत
कुपथसुपथ
कथ्यअकथ्य
कुमारीविवाहिता
कुंठितअकुंठित
कसूरबेकसूर
क़ानूनीगैरक़ानूनी
क्रेतावेक्रेता
कुयशसुयश
कुटिलऋजु /सरल
कृत्रिकप्राकृत
कार्यअकार्य
कठिनसरल
क्रूरअक्रूर
कनिष्ठज्येष्ट
कायरनिडर/साहसी
कुरूपसुन्दर
कृष्णशुल्क
कर्मण्यअकर्मण्य
करुणनिष्करुण/निष्ठुर
कुसुमवज्र
कालअकाल
कर्मठनिकम्मा
कुफलसुफल
कृशपुष्ट
कुख्यातविख्यात
कुबुद्धिसुबुद्धि
कुकृतिसुकृति
कुलतापतिव्रता
कड़वामीठा
क्रमव्यतिक्रम
कोपकृपा
क्रोधक्षमा
कल्याणअकल्याण
कारणअकारण
कालासफेद
क्रियाप्रतिक्रिया
कठोरमृदु
                        (ख)
खण्डअखण्ड
खिलनामुरझाना
खाद्यअखाद्य
खीझनारीझना
ख्यातकुख्यात
खगोलभूगोल
खंडनमंडन
खेदप्रसन्नता
खालीभरा
खुशकिस्मतबदकिस्मत
खुशमिजाजबदमिजाज
खूबसूरतबदसूरत
खासआम
खेचरभूचर
खराखोटा
खरीदनाबेचना
खगमृग
खुलाबन्द
खलसाधु, सज्जन
खर्चआमदनी/जमा
खुशनाखुश
                        (ग)
गतआगत
गम्भीरवाचाल
गृहीतत्यक्त
गगनपृथ्वी
गेयअगेय
गर्मीसर्दी
गीलासूखा
गंधनिर्गंध
ग्राहकदुकानदार
गहराउथला/छिछला
गादापतला
गौरवलाघव
गृहस्थसन्यासी
गरल

गरिमा

सुधा/अमृत

लघिमा

गौरक्षकगौभक्षक
गहनविरल
ग्रहणत्याग
गुनहगारबेगुनाह
गम्यअगम्य
ग्रामनगर
ग्रथितविकीर्ण
ग्रीष्मवर्षा
गुणदोष/अवगुण
गुरुत्वलघुत्व
गूढप्रकट
गीतअगीत
ग्रस्तमुक्त
गुप्तप्रकट
गोचरअगोचर
गमनआगमन
गुरुलघु
ग्राह्यत्याज्य
गरीबअमीर
गणतन्त्रराजतन्त्र
गर्मठंडा
गतिअवरोध
गद्यपद्य
गृहीत्यागी
गोरीसाँवली
                        (घ)
घनाछितरा
घटितअघटित
घरेलूबाहरी
घृणाप्रेम
घाटालाभ
घरबाहर
घटनाबढ़ना
घटकसमुदाय
घातप्रतिघात
घोषितअघोषित
घोषअघोष
                        (च)
चढ़ावउतार
चंचलस्थिर
चाहअनचाह
चिरअचिर
चरअचर
चिन्मयजड़
चलअचल
चेतनअचेतन
चिंतितनिश्चित
सचेष्टनिश्चेष्ट
चिरायुअल्पायु
चिरंतननश्वर
चिरस्थायीअल्पस्थायी
चतुरमूढ
चर्चितअचर्चित
चाटुकारस्वाभिमानी
चारुअचारु
चित्रविचित्र
चिकनाखुरदरा
चोरसाहूकार
चैनबेचैन
                       (छ)
छूतअछूत
छोटाबड़ा
छोराछोरी
छुटकाराबन्धन
छाँहधूप
छरहराथुलथुल
छलनिश्छल
छादनप्रकाशन
छायाआतप
छात्रछात्रा
छिन्नसंलग्न
                        (ज)
जीवनमरण
जागरणशयन/निद्रा
जागनासोना
ज्येष्ठकनिष्ठ
ज्योतिर्मयतमोमय
जलथल
जोड़घटाव
जेयअजेय
जीतहार
ज्योतितम
जीर्णअजीर्ण
जातीयविजातीय
जालिमरहमदिल
जालीअसली
जटिलसरल
जन्ममृत्यु
जंगमस्थावर
जड़ताचेतनता
ज्वारभाटा
जयपराजय
जवानीबुढ़ापा
जाग्रतसुषुप्त
जाड़ागर्मी
जातिविजाति
                       (झ)
झूठसच
झोंपड़ीमहल
झकझकाहटधुंधला
झगड़ाशान्ति
झंकृतनिस्तब्ध
झंझातूफान
                        (ट)
टीकाभाष्य
टूटनाजुड़ना
टलअटल
टकसालीसामान्य
                        (ठ)
ठहरनाजाना
ठण्डागर्म
ठीकगलत
ठोसतरल
                        (ड)
डरनिडर
डालपत्ती
                        (ढ)
ढाँढसत्रास
ढालतलवार
ढीठविनम्र
ढंगकुढंग/बेढंग
ढालूसमतल
                        (त)
तिमिरप्रकाश
तप्तशीतल
तृषातृप्ति
ताजाबासी
तुलनीयअतुलनीय
तुच्छमहत्वपूर्ण/महान
तेजधीमा
तेजस्वीनिस्तेज
तृष्णावितृष्णा
तापशीत
तिक्तमधुर
तीक्ष्णकुंठित
तुकांतअतुकांत
त्याज्यग्राह्य
तुलअतुल
तरलठोस
 (थ)
थलचरजलचर
स्थिरगतिवाद
थमनाचलना
थोडाबहुत
                        (द)
दुर्गन्धसुगंध
दुर्बलसबल
दक्षिणउत्तर
देनदारलेनदार
दुराचारसदाचार
                       (ध)
धनात्मकऋणात्मक
धवलश्याम
धनीनिर्धन
ध्रुवअस्थिर
                       (न)
निर्लज्जसलज्ज
निष्ठाअनिष्ठा
निंदास्तुति
न्यायीअन्यायी
निरुजतारुग्णता
                       ()
प्रकटगुप्त
प्रफुल्लदुखी
पूर्ववर्तीपरवर्ती
प्रत्याशितअप्रत्याशित
                       (फ)
फायदानुकसान
फूलनामूरझाना
फलनिष्फल
                       (ब)
बोधअबोध
बंध्याउर्वरा
बाढ़ग्रस्तसुखाग्रस्त
                        (भ)
भद्रअभद्र
भयभीतनिर्भय
भ्रान्तनिर्भ्रांत
                        (म)
मित्रशत्रु
मानवीयअमानवीय
मितव्ययिताअमितव्ययिता
                       (य)
यादृशतादृश
यौवनबुढ़ापा
योग्यअयोग्य
                        (र)
रंकराजा
रजनीदिन
रक्षकभक्षक
                        (ल)
लोकपरलोक
लिप्तनिर्लिप्त
लघुदीर्घ
                        (व)
व्याससमास
व्यर्थसार्थक
वनमरू
                     (श,ष, श्र)
शिखरतल
पोषणशोषण
श्रीगणेशइति
                        (स)
सामन्यविशिष्ट
संधिविग्रह
स्वीकीयापरकीया
                       (ह)
हतअहत
होनीअनहोनी
हारजीत
                       (क्ष)
क्षीणकशाश्वत
क्षतिलाभ
क्षमादण्ड
                      (त्र, श्र)
त्रिकुटीभृकुटी
त्रिकोणषट्कोण
श्रोतावक्ता
                       (ज्ञ)
ज्ञातअज्ञात
ज्ञानीअज्ञानी/मुर्ख

 

Important Topics Of Hindi Grammar (Links)
हिन्दी भाषा का विकासवर्ण विचारसंधि
शब्द विचारसंज्ञासर्वनाम , विशेषण
क्रियालिंगवचन
कारककालपर्यायवाची शब्द
विलोम शब्दश्रुतिसम भिन्नार्थक शब्दएकार्थी शब्द
अनेकार्थी शब्दउपसर्ग एंव प्रत्ययसमास
वाक्यवाक्यांश के लिए एक शब्दवाच्य
मुहावरे एंव लकोक्तियाँअलंकाररस
छंदअव्यय

Disclaimer

Due care has been taken to ensure that the information provided in this content is correct. However, Preprise bear no responsibility for any damage resulting from any inadvertent omission or inaccuracy in the content. Help us to improve Preprise.com: Contact us.

1 thought on “विलोम शब्द Vilom Shabd or Opposite Words”

Leave a Comment